अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट का 1045 पेज सम्पूर्ण आदेश डाउनलोड करे

अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट का फैसला हुआ अपलोड, 1045 पेज में से मुख्य कार्यकारी आदेश pdf  में  डाउनलोड करने के लिए निचे दिए गए लिंक पे क्लिक करे -


अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट का 1045 पेज सम्पूर्ण आदेश डाउनलोड करे

अयोध्या मुद्दे पर सबसे बड़ा फैसला, जानिए क्या आया फैसला

सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्या मामले पर ऐतिहासिक फैसला दे दिया है सुप्रीम कोर्ट में मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई के नेतृत्व वाली पांच सदस्यीय संविधान पीठ ने कहा कि इस बात पर फैसला आस्था के आधार पर नहीं होगा |
अयोध्या मुद्दे पर सबसे बड़ा फैसला, जानिए क्या आया फैसला
  • सुप्रीम कोर्ट ने मंदिर-मस्जिद दोनों पर फैसला सुनाया
  • निर्मोही अखाड़े और शिया वक्फ बोर्ड का दावा खारिज
सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि आस्था के आधार पर जमीन का मालिकाना हक नहीं दिया जा सकता. फैसला कानून के आधार पर दिया जाएगा. इसके बाद कोर्ट ने कहा कि मुस्लिम पक्ष जमीन पर दावा करने में नाकाम रहा है. हिंदुओं की आस्था पर कोई विवाद नहीं है. खुदाई में जो मिला था वो इस्लामिक ढांचा नहीं है. खाली जमीन पर नहीं बनाई गई थी बाबरी मस्जिद

आइए जानते हैं कि इस मामले के विभिन्न पक्षों को सुप्रीम कोर्ट ने क्या फैसला सुनाया...

1. रामलला विराजमान

सुप्रीम कोर्ट ने जमीन रामलला विराजमान को दे दी है. सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार को कहा है कि तीन महीने में राम मंदिर निर्माण को लेकर ट्रस्ट बनाया जाए. बोर्ड ऑफ ट्रस्टी बनाएं. विवादित स्थल का आउटर कोर्टयार्ड हिंदुओं को मंदिर बनाने के लिए दिया जाए. इस ट्रस्ट को केंद्र सरकार ही संभालेगी. पक्षकार गोपाल विशारद को पूजा करने का अधिकार दिया गया है.

2. सुन्नी वक्फ बोर्ड

अयोध्या में केंद्र या राज्य सरकार 5 एकड़ वैकल्पिक जमीन सुन्नी वक्फ बोर्ड को दे. यानी सुन्नी वक्फ बोर्ड को विवादित जमीन से अलग अयोध्या शहर में किसी और जगह जमीन मिलेगी. कोर्ट ने कहा कि मुस्लिम पक्ष विवादित जमीन पर दावा साबित करने में नाकाम रहा है.

3. निर्मोही अखाड़ा

सुप्रीम कोर्ट ने निर्मोही अखाड़े का दावा खारिज कर दिया है. कोर्ट ने कहा कि अखाड़े का दावा लिमिटेशन से बाहर है.

4. शिया वक्फ बोर्ड


सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि शिया वक्फ बोर्ड का दावा नहीं बनता. इसे खारिज किया जाता है. इससे पहले शिया वक्फ बोर्ड के वकील वकील अश्विनी उपाध्याय ने कहा कि हमारा कहना था कि मीर बाकी शिया था और किसी भी शिया की बनाई गई मस्जिद को किसी सुन्नी को नहीं दिया जा सकता है. इसलिए इस पर हमारा अधिकार बनता है और इसे हमें दे दिया जाए. शिया वक्फ बोर्ड चाहता था कि वहां इमाम-ए-हिंद यानी भगवान राम का भव्य मंदिर बने, जिससे हिंदू-मुस्लिम एकता की मिसाल कायम की जा सके.

बच्चों को मेहनत और लगन से पढ़ायें शिक्षक - डीएम

Bahraich : बच्चों को मेहनत और लगन से पढ़ायें शिक्षक, स्कूल के निरीक्षण के दौरान बच्चे नहीं सुना सके पहाड़ा डीएम ने दी चेतावनी |
बच्चों को मेहनत और लगन से पढ़ायें शिक्षक

व्यवस्था की गंदगी धुलते नौनिहाल..बच्चों

लर्निंग आउटकम की परीक्षा का रिजल्ट बताएगा कितने काबिल है गुरूजी

जिले के लर्निंग आउटकम की परीक्षा का रिजल्ट बताएगा कितने काबिल है गुरूजी, बेसिक शिक्षा मंत्री ने किया निरीक्षण |
लर्निंग आउटकम की परीक्षा का रिजल्ट बताएगा कितने काबिल है गुरूजी

2000 के नोट बंद कर देने चाहिए : गर्ग

अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट का ऐतिहासिक फैसला पढ़े

Today Live Updates: अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने ऐतिहासिक फैसला सुनाया है। सुप्रीम कोर्ट ने आदेश दिया है कि तीन चार महीने के भीतर केंद्र सरकार ट्रस्ट की स्थापना के लिए योजना तैयार करे। सुप्रीम कोर्ट ने विवादित जमीन को मंदिर के लिए सौंपने का फैसला दिया है। इसके अलावा कोर्ट ने कहा है कि अयोध्या में 5 एकड़ जमीन का एक उपयुक्त वैकल्पिक भूखंड सुन्नी वक्फ बोर्ड को दिया जाए।

सुप्रीम कोर्ट ने शनिवार को अपने बहुप्रतीक्षित ऐतिहासिक फैसले में कहा कि अयोध्या में विवादित स्थल के नीचे बनी संरचना इस्लामिक नहीं थी लेकिन भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण ने यह साबित नहीं किया कि मस्जिद के निर्माण के लिये मंदिर गिराया गया था। प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली पांच सदस्यीय संविधान पीठ ने राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद भूमि विवाद पर अपने फैसले में यह टिप्पणी की।

संविधान पीठ के अन्य सदस्यों में न्यायमूर्ति एस ए बोबडे, न्यायमूर्ति धनन्जय वाई चन्द्रचूड़,न्यायमूर्ति अशोक भूषण और न्यायमूर्ति एस अब्दुल नजीर शामिल हैं। संविधान पीठ ने कहा कि पुरातात्विक साक्ष्यों को सिर्फ एक राय बताना भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण के प्रति बहुत ही अन्याय होगा।

न्यायालय ने कहा कि हिन्दू विवादित भूमि को भगवान राम का जन्म स्थान मानते हैं और मुस्लिम भी इस स्थान के बारे में यही कहते हैं। हिन्दुओं की यह आस्था अविवादित है कि भगवान राम का जन्म स्थल ध्वस्त संरचना है। पीठ ने कहा कि सीता रसोई, राम चबूतरा और भंडार गृह की उपस्थिति इस स्थान के धार्मिक होने के तथ्यों की गवाही देती है। शीर्ष अदालत ने साथ ही यह भी कहा कि मालिकाना हक का निर्णय सिर्फ आस्था और विश्वास के आधार पर नहीं किया जा सकता और यह विवाद के बारे में फैसला लेने के संकेतक हैं।
अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट का ऐतिहासिक फैसला पढ़े
  • अयोध्या विवाद पर सुप्रीम कोर्ट का ऐतिहासिक फैसला
  • अयोध्या में राम मंदिर निर्माण का रास्ता साफ
  • विवादित जमीन पर रामलला का हक
  • मुस्लिम पक्ष को अयोध्या में ही 5 एकड़ जमीन का आदेश
राम मंदिर के लिए ट्रस्ट बनाए सरकार
सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में अयोध्या की विवादित जमीन का अधिकार हिंदू पक्ष को दे दिया है. साथ ही कोर्ट ने केंद्र सरकार से कहा है कि तीन महीने में एक ट्रस्ट बनाया जाए, जो मंदिर निर्माण का काम देखे. यानी कोर्ट का फैसला राम मंदिर के पक्ष में गया है और अब केंद्र सरकार को आगे की रूपरेखा तय करनी है.

फैसले से संतुष्ट नहीं मुस्लिम पक्ष

मुस्लिम पक्ष के वकील जफरयाब जिलानी ने कहा कि हम कोर्ट के फैसले का सम्मान करते हैं, लेकिन फैसले में कई विरोधाभास है, लिहाजा हम फैसले से संतुष्ट नहीं है. उन्होंने कहा कि हम फैसले का मूल्यांकन करेंगे और आगे की कार्रवाई पर फैसला लेंगे.

तीन महीने के अंदर ट्रस्ट बनाए सरकार
सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में कहा है कि केंद्र सरकार तीन महीने में स्कीम लाए और ट्रस्ट बनाए. यह ट्रस्ट राम मंदिर का निर्माण करेगा.

मुस्लिम पक्ष को मिलेगी 5 एकड़ जमीन
मुस्लिम पक्ष को मिलेगी 5 एकड़ जमीन सुप्रीम कोर्ट ने फैसले में कहा है कि विवादित जमीन पर रामजन्मभूमि न्यास का हक है. जबकि मुस्लिम पक्ष को अयोध्या में ही 5 एकड़ जमीन किसी दूसरी जगह दी जाएगी.

विवादित जमीन पर रामलला का हक
रामजन्मभूमि न्यास को मिलेगी विवादित जमीनसुप्रीम कोर्ट ने देश के सबसे पुराने केस में ऐतिहासिक फैसला सुना दिया है. इस फैसले में कोर्ट ने विवादित जमीन का हक रामजन्मभूमि न्यास को दिया है. जबकि मुस्लिम पक्ष यानी सुन्नी वक्फ बोर्ड को अयोध्या में ही दूसरी जगह जमीन देने का आदेश दिया है.

मुस्लिम पक्ष को वैकल्पिक जमीन
मुस्लिम पक्ष को वैकल्पिक जमीनकोर्ट ने अपने फैसले में कहा है कि मुस्लिम पक्ष को वैकल्पिक जमीन दी जाए. यानी कोर्ट ने मुस्लिमों को दूसरी जगह जमीन देने का आदेश दिया है.

जमीन पर दावा साबित करने में मुस्लिम पक्ष नाकाम
कोर्ट ने फैसले में कहा कि मुस्लिम पक्ष जमीन पर दावा साबित करने में नाकाम रहा है.

आस्था के आधार पर मालिकाना नहीं- कोर्ट
कोर्ट ने फैसले में कहा कि आस्था के आधार पर जमीन का मालिकाना हक नहीं दिया जा सकता. साथ ही कोर्ट ने साफ कहा कि फैसला कानून के आधार पर ही दिया जाएगा.

मंदिर तोड़कर मस्जिद बनाने की पुख्ता जानकारी नहीं
कोर्ट ने ASI रिपोर्ट के आधार पर अपने फैसले में कहा कि मंदिर तोड़कर मस्जिद बनाने की भी पुख्ता जानकारी नहीं है.

निर्मोही अखाड़े का दावा खारिज
सुप्रीम कोर्ट ने निर्मोही अखाड़े का दावा खारिज कर दिया है. कोर्ट ने कहा कि अखाड़े का दावा लिमिटेशन से बाहर है.

1949 में रखी गईं मूर्तियां
अयोध्या पर चीफ जस्टिस रंजन गोगोई फैसला पढ़ रहे हैं. इस दौरान चीफ जस्टिस ने कहा कि 1949 में मूर्तियां रखी गईं.

फैसले की कॉपी पर जजों ने किए दस्तखत
कोर्ट रूम में फैसले की कॉपी लाई गई, जिसके बाद फैसले की कॉपी पर सभी जजों ने दस्तखत किए.

कोर्ट रूम में सभी पक्षकार मौजूद
अयोध्या पर फैसला आने वाला है, जिससे पहले कोर्ट रूम खचाखच भरा है. सभी पक्षकार भी कोर्ट में मौजूद हैं.

सरकारी विद्यालयों में अब पढ़ाएंगे अफसर

सरकारी विद्यालयों में अब अफसर पढ़ाएंगे, विद्यार्थियों की कम संख्या से चिंतित नोडल अधिकारी ने दिया आदेश, इसी महीने से लागु होगी व्यवस्था सीडीओ की दी जिमेदारी |
सरकारी विद्यालयों में पढ़ाएंगे अफसर

बहराइच: 3453 स्कूलों में लर्निंग आउटकम एग्जाम में 1.80 लाख छात्र-छात्राओं ने दी परीक्षा

बहराइच:  जिले के 3453 स्कूलों में एक साथ कराया गया लर्निंग आउटकम एग्जाम 1.80 लाख छात्र-छात्राओं ने दी परीक्षा |
3453 स्कूलों में लर्निंग आउटकम एग्जाम में 1.80 लाख छात्र-छात्राओं ने दी परीक्षा

पांच आइएएस व एक पीसीएस अफसरों का बदला कार्यक्षेत्र

उच्चतर शिक्षा सेवा आयोग के दो सदस्यों की नियुक्ति को चुनौती

उच्चतर शिक्षा सेवा आयोग के दो सदस्यों की नियुक्ति नियम विरुद्ध बताई जा रही है, नियमों की की गई अनदेखी |
उच्चतर शिक्षा सेवा आयोग के दो सदस्यों की नियुक्ति को चुनौती

असिस्टेंट प्रोफेसर की किट विज्ञान के पदों का रिजल्ट घोषित

UP उच्चतर शिक्षा सेवा आयोग ने विज्ञापन संख्या 47 के तहत किट विज्ञान के असिस्टेंट प्रोफेसर की 10 पदों का रिजल्ट घोषित कर दिया गया है |

लेटलतीफ शिक्षक अफसरों के रडार पर

फिरोजाबाद : परिषदीय स्कूल के लेटलतीफ शिक्षक अफसरों के रडार पर आ गए है , हेल्पलाइन के माध्यम से करायी जा रही स्कूलों की क्रास चेकिंग |
लेटलतीफ शिक्षक अफसरों के रडार पर

डीएलएड प्रशिक्षण 2017 चतुर्थ सेमेस्टर की 14 Nov से प्रस्तावित परीक्षा प्रदेश 346 केंद्रों पर

बीटीसी प्रशिक्षण 2013, 2014, 2015, सेवारत उर्दू/मृतक आश्रितबीटीसी ( अनुत्तीर्ण/अवशेष ) एवं डीएलएड प्रशिक्षण 2017 चतुर्थ सेमेस्टर की 14 नवंबर से प्रस्तावित परीक्षा प्रदेश के 346 केंद्रों पर |
डीएलएड प्रशिक्षण 2017 चतुर्थ सेमेस्टर की 14 Nov से प्रस्तावित परीक्षा प्रदेश 346 केंद्रों पर

अयोध्या मामले पर फैसला आज, सोमवार तक सभी स्कूल बंद, इस मामले पे मोदी जी क्या बोले ये भी जाने

अयोध्या मामले में आज फैसला सुनाया जायेगा, यूपी में सोमवार तक बंद रहेंगे सभी स्कूल, कॉलेज, शैक्षणिक संस्थान और प्रशिक्षण केंद्र |
अयोध्या मामले पर फैसला आज, सोमवार तक सभी स्कूल बंद

अयोध्या मामले पर फैसला आज, सोमवार तक सभी स्कूल बंद,

LT Grade English Subject Result: अंग्रेजी विषय का पुरुष/महिला शाखा का रिजल्ट देखें या डाउनलोड करे

एलटी शिक्षक भर्ती के अंग्रेजी विषय का पुरुष/महिला शाखा का रिजल्ट घोषित कर दिया गया है अगर आप इसे  देखना या डाउनलोड करना चाहते है तो निचे दिए गए लिकं पे क्लिक करे -

LT GRADE ENGLISH RESULT: एलटी शिक्षक भर्ती के विषय अंग्रेजी का पुरुष रिजल्ट PDF में देखने या डाउनलोड के लिए यहाँ  क्लिक करे 

LT GRADE ENGLISH RESULT: एलटी शिक्षक भर्ती के विषय अंग्रेजी का महिला शाखा रिजल्ट PDF में देखने या डाउनलोड के लिए यहाँ क्लिक करे 
LT Grade English Subject Result

एलटी ग्रेड अंग्रेजी शिक्षक रिजल्ट घोषित, यहाँ पुरुष/महिला का रिजल्ट देखें या डाउनलोड करे

लोक सेवा आयोग ने शुक्रवार को सहायक अध्यापक प्रशिक्षिक स्नातक (एलटी ग्रेड शिक्षक ) भर्ती २०१८ के अंग्रेजी विषय का परिणाम घोषणा कर दी गई है | रिजल्ट देखने के लिए निचे जाये |

LT GRADE ENGLISH RESULT: एलटी शिक्षक भर्ती के विषय अंग्रेजी का पुरुष रिजल्ट PDF में देखने या डाउनलोड के लिए यहाँ  क्लिक करे 

LT GRADE ENGLISH RESULT: एलटी शिक्षक भर्ती के विषय अंग्रेजी का महिला शाखा रिजल्ट PDF में देखने या डाउनलोड के लिए यहाँ क्लिक करे

यूपी में धारा 144 लागू , शहरों में फ्लैग मार्च, स्कूल बंद

यूपी में धारा 144 लागू कर दिया गया है जिससे शहरों में फ्लैग मार्च भी हो रहा है और सभी बेसिक स्कूल बंद कर दिया गया है अन्य राज्यों में भी सतर्कता |
यूपी में धारा 144 लागू , शहरों में फ्लैग मार्च, स्कूल बंद

लर्निंग आउटकम परीक्षा में नहीं पहुंचे 5378 विद्यार्थी

बेसिक शिक्षा विभाग की शैक्षिक गुणवता मूल्याकन परीक्षा शुक्रवार को पूरी हुई, परीक्षा में नहीं पहुंचे 5378 विद्यार्थी, 93.9 प्रतिशत परीक्षार्थी परीक्षा में हुए शामिल |
लर्निंग आउटकम परीक्षा में नहीं पहुंचे 5378 विद्यार्थी

डायट प्राचार्य के पद नाम मे हुआ परिवर्तन,अब कहलायेगें उप शिक्षा निदेशक

डायट प्राचार्य एवं उप प्राचार्य का पद नाम परिवर्तित किए जाने सम्बन्धी निदेशक SCERT का आदेश जारी |