नई शिक्षा नीति में मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने किया बदलाव, जानिए क्यों और क्या

सरकार ने राष्ट्रीय शिक्षा नीति के मसौदे में बदलाव कर दिया है। अब हंिदूी पढ़ने की अनिवार्यता को खत्म कर दिया गया है। संशोधित मसौदे में त्रिभाषा फामरूले के तहत छात्र अब कोई भी तीन भाषा पढ़ने के लिए स्वतंत्र होंगे। हालांकि इनमें एक साहित्यिक भाषा जरूरी होगी। पुराने मसौदे में हंिदूी, अंग्रेजी के साथ कोई एक स्थानीय भाषा पढ़ने का प्रावधान था।