69000 शिक्षक भर्ती मुद्दा-ए-कटऑफ- लीगल अपडेट

*कोर्ट नम्बर 4 का संशोधन वाला लगा हुआ केस कोर्ट नम्बर 1 के केस के साथ नथी (टैग) हुआ और सुनवाई दोपहर के बाद शुरू हुई ।*

*AG सर अंदेशा जैसा कल आप सबसे साझा किया गया था कि शायद समय से नहीं रहेंगे और कोर्ट द्वारा प्रथम वरीयता पर उन्हें सुनने की इच्छा जाहिर करने के कारण सोमवार के लिए सभी वकीलों की सहमति के बाद पुनः सुनवाई के लिए 5अगस्त को लंच बाद लगाया गया है ।*
69000 शिक्षक भर्ती मुद्दा-ए-कटऑफ
*जिन वकीलों के बारे में मैंने कल बताया था वह सभी कोर्ट में उपस्थित थे सिवाय एक नाम को छोड़कर वह नाम आप सबको मालूम है और उसका कारण भी मालूम है । उनके विषय मे जिसको जानकारी चाहिए उनके मुख्य याचिकाकर्ता से सम्पर्क कर सकते हैं । केस नियमित चलने पर विशेष जोर देकर उनको भी कोर्ट लाया जायेगा और मौखिक बहस में सक्षम रहे तो मौखिक अन्यथा लिखित सबमिशन वो दाखिल करेंगे । यहां मैं किसी का बचाव नहीं कर रहा बस वास्तुस्थिति से अवगत करा रहा हूँ ।*

*नियमित सुनवाई होगी या नहीं यह अभी संदिग्ध है सोमवार की सुनवाई के बाद ही यह पूर्ण रूप से हम सबके समक्ष स्पष्ट होगा कि सुनवाई नियमित अंतराल पर होगी अन्यथा नहीं इसलिए सभी साथी अधीर ना हों सोमवार तक धैर्य धारण रखें ।*

*नियमित सुनवाई के लिए सभी (सीतापुर टीम,रिजवान खुद,हमारे 90 97 वाले भी) अपने अपने वकीलों की पीठ थपथपा रहे हैं । लेकिन CSC यानी सरकारी अधिवक्ता द्वारा सोमवार को अपनी उपलब्धता बताये जाने के बाद ही सोमवार की सुनवाई होना सुनिश्चित हुई है । चंद्रा हो या अनिल तिवारी सर या माथुर या कालिया व अन्य अपने पैनल के वकील सभी वहां 90 97 के लिए ही लड़ रहे हैं तो गुमराह ना करें ना हों । सभी सक्षम वकील कोशिश यही करेंगे कि हम सबका हित 90 97 सुरक्षित रहे ।*

*कोर्ट नम्बर 4 में रिजवान समर्थकों द्वारा आज एक नया केस 25th अमेंडमेंट के खिलाफ डाला गया था जिसको रिजवान के खासमखास वकील साहब ने जाकर कटऑफ मुद्दे के साथ टैग करा दिया है । केस में वकीलों का पैनल देखकर अंधा भी समझ जायेगा कि केस करवा कौन रहा है लेकिन कुछ बड़े नामों को मजा तभी आता है जब बीएड बीटीसी के नाम पर लोग कट मरें और एक दूसरे को अनाप शनाप बकें इसलिए यह बात कही जा रही है कि सब मिले हुए हैं केस फलाने करवा रहे केस धमाके करवा रहे ।*

*उक्त सभी बातें कोर्ट रूम में मौजूद साथी द्वारा तथ्यों को साझा करने के बाद संकलित की गई हैं ।अगली सुनवाई से पुनः प्रारम्भ की भांति मैं खुद उपस्थित रहकर सूचनाएं साझा कर लूंगा ।*

*अनिल तिवारी सर भी सीनियर अधिवक्ता है और उनके क्लाइंट भी 90 97 पर पास हैं और तो उनके खिलाफ भड़काने वाले लोग उनको हमने आबद्ध भर्ती के खिलाफ नहीं किया है जो ये कहते हो कि तिवारी सर बीच मे बिना मतलब बोलने लगते हैं ।*

*उनके द्वारा आज जताई गई आपत्ति भर्ती के हित मे है शांत दिमाग से इसपर विचार करने की आवश्यकता है ।अगली सुनवाई पर भर्ती का भला हो यह सुनिश्चित होना चाहिए यही मेरा भी निजी प्रयास रहेगा बाकियों से भी यही अपेक्षा ।*