नौकरियों के मामले में बेहतर रहा बीता साल

2018-19 में नौकरियों में हुई छह परसेंट की बढ़ोतरी

इकोनॉमी की रफ्तार में सुस्ती की चर्चा भले ही पिछले वित्त वर्ष 2018-19 में हो गई हो, लेकिन यह वर्ष नौकरियों के मामले में खराब नहीं रहा। वित्तीय रिसर्च एजेंसी सीएलएसए की रिपोर्ट के मुताबिक इस अवधि में नौकरियों में छह परसेंट की वृद्धि दर्ज की गई। इनमें 75 परसेंट नौकरियां आइटी सेक्टर से संबंधित रहीं। इन कंपनियों में नौकरियों के मामले में चालू वित्त वर्ष 2019-20 की पहली तिमाही में भी रफ्तार तेज बनी रही।

वित्त वर्ष 2018-19 में नौकरियों की स्थिति का अनुमान लगाने के लिए सीएलएसए ने देश की 241 लिस्टेड कंपनियों का सर्वे किया। ये सभी कंपनियों में कुल 45 लाख नौकरियां उपलब्ध कराती हैं। सीएलएसए की सितंबर महीने की रिपोर्ट के मुताबिक बीते वित्त वर्ष में इन कंपनियों में नौकरियों में छह परसेंट की वृद्धि हाल के कुछ वर्षो में सर्वाधिक है। इन कंपनियों ने करीब ढाई लाख नई नौकरियां इस अवधि में जोड़ीं।

नौकरियों के मामले में बेहतर रहा बीता साल

इससे जुडी दूसरी ख़बर पढ़े , निचे देखे और क्लिक करे:-

No comments:

Post a Comment