Teacher's Day: गुरु-शिष्य परंपरा पर हैं ये 4 कलंक, तार-तार कर दिए रिश्ते

गुरु-शिष्य परंपरा पर हैं ये चार कलंक, तार-तार कर दिए रिश्ते, जानिए

इस युग में इस पावन पवित्र रिश्ते को कई गुरुओं और छात्रों ने बदनाम कर दिया. कुछ हवस के भूखे लोगों ने इस रिश्ते की मर्यादा को तार-तार कर दिया. ऐसे कई मामले पिछले दिनों सुर्खियों में आए जहां शिष्य-गुरु की हरकतों ने पूरे समाज को शर्मसार कर डाला.


हमारे जीवन में शिक्षक की अहम भूमिका होती है और शिक्षक के लिए सबसे गर्व का क्षण वो होता है, जब उनका कोई छात्र उनका नाम रोशन करता है. सफलता के नए आयाम हासिल करता है. गुरु को हमारी संस्कृति में भगवान से ऊपर का दर्जा दिया जाता है. लेकिन इस युग में इस पावन पवित्र रिश्ते को कई गुरुओं और छात्रों ने बदनाम कर दिया. कुछ हवस के भूखे लोगों ने इस रिश्ते की मर्यादा को तार-तार कर दिया. ऐसे कई मामले पिछले दिनों सुर्खियों में आए जहां शिष्य-गुरु की हरकतों ने पूरे समाज को शर्मसार कर डाला. ऐसे कुछ मामलों के बारे में हम आपको बताने जा रहे हैं.

टीचर और छात्र नग्न अवस्था करते थे वीडियो कॉल

हाल ही में जालंधर का एक वीडियो वायरल हुआ. जिसमें एक लड़का एक महिला को अपने फोन से वीडियो कॉल करता है और महिला को नग्न अवस्था में अपने पास बुलाता. वीडियो में महिला बाथरूम में दिखती है लड़का बार-बार महिला को वीडियो के सामने आने को बोलता है. पता चला कि वीडियो में दिखने वाली महिला जालंधर के एक स्कूल में पढ़ाती है और लड़का उसका स्टूडेंट है. इस मामले में जालंधर के स्कूल प्रिंसिपल का कहना है कि स्कूल का इस वीडियो में कोई रोल नहीं है क्योंकि यह स्कूल में नहीं बना है.

उन्होंने कहा कि वीडियो में दिखने वाली महिला अध्यापक संविदा पर आई थी लेकिन कुछ महीने पहले ही उसे स्कूल से निकाल दिया गया था. वहीं दूसरी ओर छात्र के बारे में यह पता चला है कि वह स्कूल से कुछ दिन पहले ही निकाला गया था. प्रिंसिपल का भी यही कहना है कि उसकी हरकतों के चलते उसे स्कूल से रेस्टिकेट कर दिया गया है. जालंधर पुलिस के डीसीपी गुरमीत सिंह का कहना था कि एक वायरल वीडियो के बारे में पता चला है लेकिन अभी तक इसके बारे में कोई शिकायत नहीं आई है.

टीचर के छात्र संग थे अवैध संबंध, पति को मार डाला

इसी साल जनवरी में हरियाणा के पानीपत में एक दिल दहला देने वाला मामला सामने आया. जहां 30 वर्षीय महिला ट्यूशन टीचर के अपने 19 वर्षीय छात्र के साथ अवैध संबंध बन गए. दोनों का रिश्ता खूब परवान चढ़ने लगा. जिसके चलते दोनों मिलकर महिला टीचर के पति को मार डाला. वारदात समालखा इलाके की थी. पुलिस के मुताबिक समालखा में दलबीर सिंह की शादी करीब 4 वर्ष पूर्व रोहतक निवासी अमिता के संग हुई. उनकी एक बेटी भी है. अमिता ने पोस्ट ग्रेजुएशन किया था. वो पढ़ने में काफी तेज थी. लिहाजा पिछले कुछ माह से वह उसके पड़ोस में रहने वाले एक ITI के छात्र अमित को ट्यूशन पढ़ा रही थी.

ना जाने कब अमिता और उसके छात्र अमित के बीच अवैध संबंध हो गए. कुछ दिन बाद यह बात दलबीर के परिजनों को पता चल गई. दलबीर और अमिता के बीच इस बात को लेकर काफी विवाद हुआ. दलबीर ने वहां से कमरा बदल दिया और दूसरी जगह शिफ्ट हो गया. इस बात से अमिता गुस्से से भर गई. उसने दलबीर को रास्ते हटाने की योजना बना डाली. अपने प्लान के मुताबिक अमिता ने 18 दिसम्बर के दिन अमित को फोन कर अपने कमरे पर बुलाया. फिर दलबीर को चाय में डालकर नशे की गोली दे दी. दलबीर बेहोश हो गया. अमिता और अमित ने उसके हाथ-पांव बांध दिए. लेकिन वो होश में आ गया. हाथ-पांव बंधे होने की वजह से उसने विरोध किया. तभी अमिता और अमित ने उसके सिर पर डंडे से कई वार कर डाले. जिससे मौके पर ही उसकी मौत हो गई.

छात्र से जबरन संबंध बनाती थी टीचर, ऐसे खुली पोल

ये मामला पिछले साल मई में सामने आया था. चंडीगढ़ में एक 33 वर्षीय महिला टीचर को पुलिस ने इसलिए अरेस्ट किया था क्योंकि वह अपने ही छात्र का शारीरिक शोषण करती थी. यह कार्रवाई बच्चे के माता-पिता की शिकायत पर पुलिस ने अंजाम दी थी. जानकारी के अनुसार, पीड़ित छात्र कक्षा 10 में पढ़ता था. वह उसी के मोहल्ले में रहने वाली एक महिला टीचर के पास ट्यूशन पढ़ने जाता था. इसी दौरान महिला ने छात्र से कई बार शारीरिक संबंध बनाए.

बाद में छात्र क्लास में फेल हो गया तो उसके माता-पिता टीचर के घर पहुंचे और कहा कि अब वह अपने बच्चे को वहां नहीं पढ़ाएंगे. जब टीचर को पता चला कि छात्र अब वहां नहीं पढ़ेगा तो उसने बच्चे को खींचकर अपने साथ कमरे में बंद कर लिया. घबराए माता-पिता ने पड़ोसियों की मदद से अपने बच्चे के बाहर निकाला. बच्चे को लेकर माता-पिता घर आ गए. तभी थोड़ी देर बाद टीचर उनके घर पहुंच गई और वहां कफ सिरप पी लिया. डरकर बच्चे के माता-पिता ने पुलिस को सूचना दी. पुलिस ने टीचर को अस्पताल में भर्ती कराया.

बच्चा यह सब देख सदमे में आ गया. जब उसके माता-पिता ने काउंसलर संगीता जुंड से मदद ली तो कुछ और मामला ही सामने आया. छात्र ने बताया कि टीचर उसे पीटती थी और उसके साथ जबरन संबंध बनाती थी. यही नहीं, टीचर ने बच्चे को एक सिम कार्ड और मोबाइल भी दिया था ताकि वह उससे बात करता रहे. छात्र के मोबाइल में टीचर के कई मैसेज भी मिले थे. इसके बाद टीचर को कोर्ट में पेश किया गया. जहां से अदालत ने उसे जेल भेज दिया.

'इश्क' के चक्कर में छात्र को ले उड़ी टीचर

हरियाणा के फतेहाबाद जिले में पिछले साल जुलाई माह में एक लेडी टीचर और उसके नाबालिग छात्र के बीच 'इश्क' कुछ इस कदर परवान चढ़ा कि वो टीचर अपने उस छात्र को साथ लेकर घर से भाग गई थी. इस संबंध में छात्र के परिजनों ने महिला टीचर के खिलाफ अपहरण का मामला दर्ज कराया था. मामला एक निजी स्कूल का था. जहां पढ़ाने वाली 29 वर्षीय टीचर को 10वीं कक्षा के 15 वर्षीय छात्र से प्यार हो गया. इसके बाद लेडी टीचर और उसका छात्र एक दिन अचानक लापता हो गए.

स्कूल की प्रिंसिपल को जब महिला अध्यापिका पर शक हुआ, तो उसने दोनों परिवारों को बुलाकर सारा माजरा समझाया. लेकिन लड़के के पिता ने पुलिस में शिकायत देकर टीचर पर बेटे के अपहरण का आरोप लगा दिया. छानबीन के दौरान पता चला कि आरोपी लेडी टीचर और नाबालिग छात्र के बीच काफी नजदीकियां थी. दोनों मोबाइल फोन और सोशल मीडिया के जरिए भी एक दूसरे से जुड़े हुए थे. स्कूल में भी दोनों अक्सर एक दूसरे से बातचीत करते देखे जाते थे. बाद में पुलिस ने आरोपी टीचर को अरेस्ट कर लिया. उसने पूछताछ में कबूला कि वह छात्र को लेकर पहले हिसार गई, और बाद में दोनों दिल्ली चले गए. वहां से दोनों जम्मू के कटरा पहुंचे थे. पुलिस ने बताया कि दोनों आपसी रजामंदी से फरार हुए थे.
इससे जुडी दूसरी ख़बर पढ़े , निचे देखे और क्लिक करे:-

No comments:

Post a Comment