69000 शिक्षक भर्ती का न्यायायिक युद्ध का दौर फिर से शुरू - रिजवान अंसारी

दशहरे के लंबे अवकाश के बाद न्यायालय आज अपने नियत समय पर फिर से खुल गया है। इस लंबे में अवकाश में न जाने कितनी अवफाह आईं, न जाने कितने ऑर्डर्स/जजमेंट वायरल हुए, न जाने कितने ज्ञानचंद पैदा हुए। इन सबका जवाब कोर्ट में गठ्ठर खुलने के बाद टीम बेहतरीन अंदाज़ में देने को उत्सुक है।
69000 शिक्षक भर्ती का न्यायायिक युद्ध का दौर फिर से शुरू
16 अक्टूबर बुधवार को अपने निर्धारित समय पर 69000 शिक्षक भर्ती (Shikshak Bharti) पासिंग मॉर्क केस कोर्ट न0-1 में सुना जाएगा। बुधवार के दिन हाइकोर्ट लखनऊ पीठ में फ्रेश केस नही सुने जाते हैं। 16 अक्टूबर की डेली लिस्ट आ चुकी है। कल 15 अक्टूबर की शाम को एडिशनल केसों की लिस्ट आ जायेगी। इसी एडिशनल लिस्ट में पासिंग मॉर्क केस लिस्टेड होगा। बुधवार को सिर्फ डेली लिस्ट और एडिशनल लिस्ट में लिस्टेड केसों की सुनवाई होगी। पूरी उम्मीद है बुधवार को एक लंबे समय तक सुनवाई चलेगी। विपक्ष की तरफ से मोस्ट सीनियर एडवोकेट जयदीप नारायण माथुर का सबमिशन/बहस अभी आंशिक शेष है। इसके बाद सीनियर एडवोकेट अनिल तिवारी अपना सबमिशन पूर्ण करेंगे। इसके बाद विपक्ष का अवशेष सबमिशन कम्प्लीट होगा। इतना सब हो जाने के बाद अपनी तरफ के वकीलों को मौका मिलना शुरू होगा। अपनी तरफ से सबसे पहले फायर ब्रांड सीनियर एडवोकेट उपेंद्र नाथ मिश्रा पक्ष रखना/आर्गुमेंट करेंगे।इसके बाद अन्य अधिवक्तागण अपना सबमिशन पूर्ण करेंगे।

दिवाली के अवकाश के पूर्व ही इसका फैसला रिज़र्व हो जाएगा। केस अधिकतम 5-6 वर्किंग डेज का शेष बचा है। 16,17 और 18 अक्टूबर इस केस के लैंडमार्क डेज होंगे। इन्ही दिनों में 40/45 केस की दिशा तय हो जाएगी।

आप सभी के पुनः जागने का समय आ गया है। 40/45 के सपोर्टर साथी नींद से जागकर अपने उत्तरदायित्व की पूर्ति हेतु अपनी-अपनी सहभागिता दें।

➤ टीम रिज़वान अंसारी आज लखनऊ पहुंच चुकी है। केस की अग्रिम तैयारी, वकीलों के साथ परिचर्चा का दौर आज से शुरू हो जाएगा। टीम को आप सभी से इस अंतिम निर्णायक मोड़ पर सहयोग की अपेक्षा है।