नौकरी ना मिलने से हताश बीएड छात्र ने फांसी लगाकर दी जान

माँ जी मै पढता था, लेकिन लगता है मेरी किस्मत में नौकरी नहीं थी मुझे माफ़ करना, ये बात नोट लिखने के बाद बीएड छात्र (नागेन्द्र सिंह ) ने फांसी लगाकर जान दे दी |
बीएड छात्र ने फांसी लगाकर दी जान